बैंक ने ATM नियमों में बड़ा बदलाव किया है।

बैंक ने ATM नियमों में बड़ा बदलाव किया है।

Protutorialstore

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में अगर आपका बैंक खाता है तो यह खबर आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है।  ऐसा इसलिए क्योंकि 1 जुलाई से बैंक एटीएम से कैश निकालने के नियम बदल गए हैं।  ऐसा इसलिए है क्योंकि लॉकडाउन के दौरान एटीएम से कैश निकालने के नियम बदल दिए गए थे।  जो 30 जून, 2020 को समाप्त हो रहा है।

Protutorialstore

अब एसबीआई ने फिर से एटीएम से कैश निकालने के नियमों में बदलाव किया है।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, SBI खाताधारक का मासिक औसत बैलेंस 25,000 रुपये है।  वे बिना किसी शुल्क के 8 बार बैंक शाखा से नकदी निकाल सकेंगे।  जिसमें एसबीआई एटीएम से 5 बार और अन्य बैंक के एटीएम से 3 बार पैसे निकाल सकेगा।  जबकि 25,000 से 50,000 की औसत बैलेंस वाले खाताधारक बिना किसी शुल्क के एटीएम से 10 बार नकद निकाल सकेंगे।

Protutorialstore

 इसके अलावा, रिपोर्ट के अनुसार, खाताधारक 50,000 रुपये से 100,000 रुपये की औसत शेष राशि के साथ बैंक शाखा से 8 बार नकद निकाल सकेंगे।  जबकि बैंक शाखा से नकद निकालने के लिए खाता धारकों के लिए एक लाख से अधिक की औसत शेष राशि की कोई सीमा नहीं है।  वह बैंक शाखा से कितनी बार नकद निकाल सकता है?  जानकारी के मुताबिक, एसबीआई फ्री लिमिट के बाद एटीएम से कैश निकालने पर 5 से 8 रुपये और जीएसटी चार्ज वसूलता है।

Protutorialstore

સ્ટેટ બેંક ઓફ ઇન્ડિયા(એસબીઆઈ)ની સત્તાવાર વેબસાઇટ sbi.co.in પર ઉપલબ્ધ માહિતી મુજબ, મેટ્રો શહેરોમાં, એસબીઆઈ તેના નિયમિત બચત ખાતાધારકોને એક મહિનામાં 8 મફત ટ્રાન્ઝેક્શનની મંજૂરી આપે છે. જેમાં 5 ટ્રાન્ઝેક્શન એસબીઆઈ એટીએમથી કરી શકે છે જ્યારે 3 અન્ય બેંકના એટીએમથી કરી શકે છે. આ ઉપરાંત, દરેક વ્યવહાર પર ગ્રાહકો પાસેથી શુલ્ક લેવામાં આવે છે. નોન-મેટ્રો શહેરોમાં 10 ફ્રી એટીએમ ટ્રાન્ઝેક્શન મળે છે જેમાં 5-5 એસબીઆઈ અને અન્ય બેંકથી કરી શકાય છે.

Protutorialstore

Post a Comment

2 Comments